चालक लोमड़ी : Clever Fox | Moral Story In Hindi

228 Views

हेलो , दोस्तों , आप सबका Help हिंदी में आपका स्वागत है | आज की कहानी काफी ही शिक्षाप्रद है – चालक लोमड़ी

एक बार की बात है , एक कौवा था जो बहुत भूखा था | भोजन प्राप्त करने के लिए वह इधर – उधर घूम रहा था | कि अचानक उसे रोटी दिखाई पड़ी , कौवे ने रोटी उठाई और एक पेड़ की शाखा के ऊपर बैठ गया | और रोटी खाने के लिए विचार करने लगा | तब एक लोमड़ी ने कौवे और रोटी को देखा | रोटी को देखते है लोमड़ी रोटी को पाने की सोचने लगा | लोमड़ी उस पेड के नीचे बैठ गया जिसके ऊपर कौवा बैठा था |

लोमड़ी ने कौए से कहा – अरे प्यारे कौवे ! तुम बहुत सुंदर हो , तुम्हारा शरीर अति मनोहरी है | तुम्हारे पंख मन को हरने वाले हैं | तुम्हारी आवाज बहुत ही मीठी है | तुम्हारी आवाज सुनकर मेरे कान तृप्त हो जाते हैं ,मन आनंदमय हो जाता है |

अपनी प्रशंसा सुनकर कौवा बहुत ही खुश हो गया | और अपनी और अधिक प्रशंसा सुनने के चक्कर में उसने सोचा क्यों न मै फिर से लोमड़ी को अपना मधुर गीत सुनाऊ | तब उसने जैसे ही कांव – कांव की आवाज करना आरम्भ किया , वैसे ही उसके चोंच की रोटी जमीन पर गिर गयी , लोमड़ी की तरकीब काम आ गयी | जैसे ही रोटी जमीन पर गिरी लोमड़ी ने रोटी उठाई और भाग गया |

आशा है आपको चालक लोमड़ी कहानी पसंद आएगी , और आपको एक सीख मिली होगी कि हमें कभी भी झूठी प्रशंसा नहीं सुननी चाहिए |न कभी भी झूठी प्रशंसा सुने और न कभी किसी की झूठी प्रशंसा करे |

About Vinay Singh 555 Articles
मेरा नाम Vinay Singh है, और मुझे लोंगों की Help करना अच्छा लगता है। Hindi Me Jane आपके Technical Problem के Solutions के लिए बनाया गया है जहां से आप कुछ नया सीख सकते हैं।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*