शिवा खेड़ा : प्रेरणादायी भाषण | Shiva Kheda : Motivational Speech

दोस्तों  कुछ शब्द होते हैं , जिन्हें सुनकर लोग सफलता प्राप्त करते हैं , वह कोई भी व्यक्ति हो सकता है जिससे आप प्रभावित हो – रामचरित मानस रचयिता तुलसीदास को उनकी पत्नी ने प्रेरित किया और उसके बाद महाकाव्य बना |

आज मै इसी प्रेरित श्रंखला में शिव खेड़ा का प्रेरणादायी भाषण लेकर आया हूँ, जिन्होंने लाखो लोगो को प्रेरित किया है जिसमे मै भी शामिल हूँ , शिव खेड़ा की book – You Can Win [ Hindi Edition – जीत आपकी ] की 26 लाख से भी ज्यादा प्रतियाँ 16 भाषाओ में बिक चुकी है | शिव खेड़ा केवल भारत में ही नहीं पुरे विश्व में अपने motivational सेशन में जाते हैं |

आज Help hindi – Shiva Kheda के Speech को उन्ही के शब्दों में यहाँ प्रस्तुत कर रहा हूँ –

हम लोगो को हमारे Skill के लिए हायर किया जाता है , लेकिन Fire कर दिया जाता है , हमारे व्यवहार की वजह से |और दूसरी चीज जब कोई भी कोई इंसान से कहता है , कि मै ये काम नही कर सकता , तो वो दो चीज कह रहा है – या मुझे करना नहीं आता , या मै करना नहीं चाहता |

अगर यह कह रहा है मुझे करना नहीं आता , तो उसे Technical Training की जरुरत है साब , लेकिन अगर ये कह रहा है मै करना नहीं चाहता , तो वो दो चीज कह रहा है – या मै परवाह नहीं करता , This is an attitude Issue .

मेजर challenges इन्ही दो केटेगरी में आती है attitude issue होता है या values issue होते हैं |

एक ही हालत मे कैसे कुछ लोग नए रिकॉर्ड तोड़ देते है , कुछ लोग अपने आप को तोड़ लेते हैं |

आप लोग ने मोहम्मद अली का नाम सुना है ?

Who was Mohammad Ali ? The Champian Boxer , जब वे Ring में जाते थे तो वे क्या कहते थे – I am the Greatest , I am the Champian………………. I am the Greatest , I am the Champian…………………….. I am the Greatest , I am the Champian. He Never Said (उन्होंने कभी नही कहा ) – I Hope , I Win……………. I Hope , I Win………… I Hope , I Win

 

वे क्यों कहते थे, जब वे Ring में जाते थे और अपने Oponant विरोधी को देखते थे , और उसे कहते थे – You have Belt , But I am Champian ( तुम्हारे पास बेल्ट है तो क्या , लेकिन चैम्पियन मै हूँ | ) Ring में Champian बनने से पहले वो बाहर champian बन चुके थे Already |

ये वे क्यों कहते थे – I am the Greatest , I am the Champian – This is a Positive Thinking , with Positive thinking everything is Possible

कितने लोग मानते है Possitive से सब कुछ संभव है –

not true

साब , ध्यान दीजियेगा बहुत गलत फेमियां हो जाती है आदमी को मै चाहे जितना Positive हो जाऊ मै आपका किडनी Transplant नहीं कर सकता , मर जाएगा दूसरा आदमी |

सिर्फ Positive Thinking सफलता की गेरेंटी नहीं करता है | Positive Thinking , Positive Efferts के साथ Positive actions के साथ आपकी सफलता की सम्भावना बढ़ाता है |

जब मोहम्मद अली कह रहे थे – I am the Greatest , I am the Champian………….. I am the Greatest , I am the Champian, उस समय वे अपने बैठक में बैठकर Popcorn नहीं खा रहे थे , Video नहीं देख रहे थे, टेलीविजन नहीं देख रहे थे , कोको कोला नहीं पी रहे थे | All the time जब वे कह रहे थे – I am the Greatest , I am the Champian…………he was in ring punching all the time , He was Punching the Bag यानी कि Possitive Thinking , Positive actions के साथ चल रही थी |

Positive Thinking without Positive Actions which no ware in Life

मै एक किताब लिख रहा हूँ – Myths, बहुत बार यह गलत फ़हमी होती है कि Possitive Thinking से सब कुछ कर लोगे आप , No No Possitive Thinking must be back with possitive actions in order to achieve success , it increacess Probality of Success आपकी सफलता की सम्भावना बढ़ जाती है इससे [ Positive Thinking से , सकारत्मक सोच से ]

मोहम्मद अली ने एक और बात कही – की जिन्दगी में सफल होने के लिए आपको दो चीजे चाहिए | आपको काबिलियत भी चाहिए आपको इरादा भी चाहिए |Which Means he said –You Need the Skill ,and You need the will ’

to successed You need 2 things in life , You need the skill, and also need the will

दोनों चीजे चाहिए आपको काबिलियत भी चाहिए और इरादा भी चाहिये |

उसने कहा – जब मै रिंग में लड़ रहा था तब apponant ने मुझे पंच मारकर नीचे गिरा दिया , और मै वहां जमीन पर लेता हुआ था | और रेफरी मुझे count कर रहा था |उस time पे मेरे skill ने मेरी मदद नहीं की साब , what skill उसने already मुझे मार कर गिरा दिया | उस time पे वह बोला – मेरी will बार बार मुझसे कह रही थी – एक बार फिर खड़े हो जाओ , एक बार फिर उठ जाओ, एक बार फिर खड़े हो जाओ |

It was my will , it was not skill

शायद आप लोगो ने माइकल फेल्प्स का नाम सुना है –

कौन था माइकल फेल्प्स thats swimmer , कितने glod मेडल जीते उसने -21 जीते उसने last ओलिंपिक में [अब 25 गोल्ड मेडल हैं रियो में , दुनिया में सबसे ज्यादा ओलम्पिक में मेडल जीतने वाला व्यक्ति , महामानव नाम से प्रसिद्ध ] इसको प्रसिद्धी कब मिली 2008 मे जब इसने बीजिंग में 36 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा किसका –

मार्क्स पिच का , Marks Pich ने 1997 में म्युनिक में 7 गोल्ड मेडल जीते , वहां प्रेस कांफ्रेंस वाले भी थे किसी ने कहा – साहब , 7 गोल्ड मेडल जीत लिए आपने must be your lucky day , must be your lucky day जब Marks Pich ने ये सुना Must be your lucky day उसको बहुत बुरा लगा , उस journlist को बुलता है , कि तुम इधर आओ मै तुम्हे बताता हूँ , What Luck it for me ,

कहता है i was in maxico 1968बोला जब मैंने 3 Gold Medel जीते He Says मै खुश था , लेकिन नाखुस था | maxico से म्युनिक 4 साल में मैंने 10 हज़ार घंटो की Practice की है | और अगर आपका गणित अच्छा है , तो इसका मतलब है ढाई हज़ार घंटे हर साल | अगर आपका गणित और अच्छा है तो इसका मतलब है 8 घंटे Daily , बिना इतवार (Sunday) के

और Marks Pich ने journlist को कहा कि – आप ऐसा कीजिये अगले चार साल के लिए 8 घंटे पानी में Daily पानी में बैठ जाइये आपका जिस्म सुकड़ जाएगा |पूछता है – क्या किस्मत ने मुझे जीता दिया है ? बोले साब , Luck Is not design to deliver you things in life , अब उसने जवाब दिया

”Athelities train 15 years For 15 Seconds of performence”

Athelities, 15 साल की तैयारी करते है 15 सेकंड के performence के लिए , जाके उनसे पूछिए किस्मत ने उन्हें दिला दिया उसको |

हमारा office है सिंगापूर में 3 साल पहले मै अखबार पढ़ रहा था ,2016 की olympics के लिए 5 गोल्ड मेडल के लिए , 3 साल पहले अखबार में लिखा था हम लोग तैयारी कर रहे हैं 2016 की ओलिंपिक के लिए 5 गोल्ड मेडल जीतने के लिए |

और उसकी कितने सालो से पहले तैयारी चल रही है imagine, बोले साब Athelities, 15 साल की तैयारी करते है 15 सेकंड की performence के लिए

दोस्तों , आशा है आपको यह Shiva Kheda का Speech बेहद पसंद आया होगा , इसे अपने दोस्तों में Share करना न भूले |

8 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *