Bhartiya Kisan Aur Jawan Ki Help Ham Kaise Kare

एक पहल किसानो और जवानो  के लिए

हमारे देश के द्वतीय प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने नारा दिया था – “जय जवान जय किसान”

दोस्तों आज मुझे यह कहते हुए बहुत ही ज्यादा दुःख हो रहा है – आज के समय में तपते धूप में कड़ी मेहनत कर अन्न उपजाने वाला किसान और देश की रक्षा के लिए अपने जीवन की परवाह न करते हुए , रेगिस्तान के वीरान जंगलो में भटकता जवान का जीवन त्रष्त है , और हमारी जनता और नेता मस्त हैं …………

किसानो की भुखमरी के कारण आत्महत्या और जवानो की शाहदत को मिलते हैं केवल चंद कुछ रूपये , मै पूछना चाहता हूँ इस देश की सरकार से आप से क्या उनको हमारी सेवा का यही इनाम मिलेगा | क्या आप देश की सेवा के लिए बॉर्डर पर लड़ेंगे , खेत में पसीना बहायेंगे|

दोस्तों , क्या आपको याद है जब नई दिल्ली में जंतर मंतर पर मोदी सरकार के भूमि अधिग्रहण बिल के खिलाफ आम आदमी पार्टी की रैली के दौरान किसान गजेंद्र सिंह ने पेड़ पर फांसी लगाकर खुदकुशी की, दिल्ली के सीएम केजरीवाल और डिप्टी सीएम सिसोदिया देखते रहे। सिलसिला यहीं नहीं रुका दोस्तों – कुमार विश्वास ने इशारा तक किया कि – क्या गजेन्द्र मर गया |

दोस्तों , इस पोस्ट को मैने राजनीतिक लहजे से नहीं , मानवीय लहजे से लिखा है………….क्या अरविन्द केजरीवाल और कुमार विश्वास ने जो उस वक्त किया क्या वह सही था |क्या उनको गजेन्द्र को बचाना नहीं चाहिए था |

हमको जब पता चलता है कि – हमारे जवानो और किसानो की यह हालत है तो हम क्या करते हैं बस facebook और whatsapp पर पोस्ट लिख कर डाल देते हैं कि भाइयो ऐसा ऐसा हुआ ये गलत है , क्या ऐसा करने से उन्हें इन्साफ मिलेगा , बिलकुल नहीं मित्रो , बिलकुल नहीं |

एक बार एक छोटी सी लड़की ने रेडियो पर सुना की india जीत गयी है और , जीतने वाले हर खिलाड़ी को एक करोड़ रुपया मिला |

माँ ने कहा – हाँ बेटी

बेटी आसमान में हेलीकाप्टर से लटकते जवान को देख के बोली – माँ क्या इन्हें भी मिलेगा एक करोड़ ….?

माँ ने बहुत ही सुंदर बात बोली – ना बेटी न ….?

हमारे यहाँ बल्ले से खेलने वाले को इनाम मिलता है …………जान से खेलने वाले को नहीं |

आज Help Hindi आपको कुछ ऐसे तरीके बताएगी जिससे आप जाने अनजाने में उनकी मदद कर पायेंगे –

Cold Drink की बजाय गन्ने के रस \लस्सी को प्राथमिकता दे –

दोस्तों यह बात कहीं से छुपी नहीं है कि हमारे स्वस्थ के लिए Cold Drinks के लिए नुक्सानदेय है |

सब्जी लेते समय या फल लेते समय ज्यादा तोल मोल न करे –

दोस्तों क्या हम कभी भी Branded वस्तुओ को खरीदते समय हम दूकानदार से तौल मोल करते हैं , शायद नहीं | लेकिन वही अगर हम सब्जी या फल खरीद रहे होते हैं तो सब्जी वाले और फल वाले से 1 – 1 रूपये की bargaining करते नजर आते हैं | शायद यही कारण है – कि किसान आत्महत्या करते जा रहे हैं |

Indian Soldiers की Income बढाई जाय –

24 घंटे मौत की छाँव में रहने वाले सिपाही को  हमारी सरकार महज 20,000 रूपये देती है साथ ही वो इस पर टैक्स भी लेती है |यह भी बहुत अजीब बात है की यहाँ के सांसद  को कॉल के लिए 50,000 कॉल free  दिए जाते हैं जबकि अपने घर से हजारे किलो मीटर दूर बैठे सैनिक को एक कॉल का पैसा नहीं मिलता |वाह क्या बात है – नेताराज

Indian Soldiers पर किसी भी प्रकार का कर न लगाया जाय –

और यह सब बड़ा दुर्भाग्य हैं जहाँ देश किसान की वजह से ही खाता है और सैनिक की वजह से चैन से घर पर टीवी देखता है और चैन की नींद लेता है |

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *