Independence Day special – Never forget their sacrifice…

1
62

Independence Day special-

Never forgets their sacrifice…

 

“आजादी की कभी शाम नहीं होने देंगे,

शहीदों की क़ुरबानी बदनाम नहीं होने देंगे,

   बची हो जब तक  बूंद भी लहू की,

     तब तक भारत माँ का आँचल

         नीलाम नहीं होने देंगे.”

“स्वतंत्रता हमारा जन्मसिध्द अधिकार है” – स्वतंत्रता प्रत्येक प्राणी को प्रिय होती है| चाहे वह मनुष्य हो या कोई पशु-पक्षी,जीव-जंतु |

15 अगस्त, स्वतंत्रता दिवस क्यों मानते है, यह छोटे बच्चों से लेकर जवान और बूढ़े हमारे सभी भारतीयों को पता है|

             पहले हम अंग्रेजो के गुलाम थे | उनके बढ़ते हुए अत्याचारों से सारे भारतवासी परेशान हो गए और तब विद्रोह की ज्वाला भड़की और देश के अनेक वीरों ने प्राणों की बाजी लगाई, गोलिया भी खाई, लाखों लोगों ने अपने प्राण न्योछावर किए| और हमारे भारतीय जनता एकजुट हो गई| सुभाषचंद्र बोस, भगतसिंह, चंद्रशेखर आजाद ने क्रांति की आग फैलाई और अपने प्राणों की आहुति दी| फिर सरदार वल्लभभाई पटेल, महात्मा गांधीजी, नेहरूजी ने सत्य, अहिंसाऔर बिना हथियारों की लड़ाई लड़ी, उन्होंने सत्याग्रह आंदोलन किये, लाठियां खाई, कई बार जेल गए और अंग्रेजो को हमारा देश छोड़कर जाने पर मजबूर कर दिया|  अंतत: 15 अगस्त, 1947 को सफलता मिली | आधी रात के समय जवाहरलाल नेहरू ने जब स्वतंत्रता प्राप्ति की घोषणा की तब सारे देश में खुसी की लहर दौड़ गई |सरकारी भवनों पर रास्ट्रीय ध्वज को लहराया गया | इस तरह १५ अगस्त १९४७ का दिन हमारे लिए “स्वर्णिम दिन बना” और भारत स्वतंत्र हुआ|

          यह दिवस हमें अपने महान स्वतंत्रता सेनानियों तथा शहीदों का स्मरण करना चाहिए| सभी भारतवासी उनके बताये मार्ग पर चलने का संकल्प लेना चाहिए | सवतंत्रता दिवस भारत के लोगो को मतभेद भूल कर रहना और एक अच्छा भारतनिर्माण करने की प्रेरणा देता है| साबित हो गया था की हमेशा सत्य की विजय होती है इसी लिए सत्यमेव जयते का नारा लगाया जाता है |

      आपको तो सब को पता है आज़ादी हमारे लिए क्या मायने रखती है | पर देखा जाये उन महान वीरो ने अपने प्राण दिए थे वो खुद के लिए तो नहीं दिए थे |

उन्होंने हमारे भारतवासी के लिए अपने प्राण दिए थे पर हमने एक बार भी सोचा है की हम सच में आजाद है ?

क्या महान वीरो के प्राण गए तब हमारा देश आजाद हुआ पर हम खुद की सोच से आजाद हो पाए है ?

हमने कभी किसी की मदद की है ?

हम खुद से यह सवाल पूछना है की हमने क्या किया है ?

आज़ादी का अर्थ क्या है?

समाज को हमारे देश को एसी दिशा देना, जिससे लोगो को मदद मिले, लोगो के अंदर एक दुसरे के प्रति प्यार रहे, अच्छी संस्कृति बनी रहे. आज हमें अपनी आज़ादी और उन वीरो की क़ुरबानी का सदुपयोग करते देश और समज को विकास के पथ पर लाना चाहिए |

क्या हमारी आज़ादी यही है ?

अगर एक जुर्म करने के लिए आमिर आदमी को कुछ घंटो की सजा या फिर बिना सजा के ही छोड़ दिया जाता है लेकिन एक गरीब आदमी को छोटे से छोटा जुर्म या तो कभी-कभी तो जुर्म उसने किया भी ना हो उसकी उसे सजा मिल जाती है. क्या यही है आज़ादी ?

हम क्या कर सकते है?

हम क्या नहीं कर सकते दोस्तों हम सब कुछ कर सकते है | जिस आज़ादी के लिउए हमारे देश के लिए महान वीरो ने अपने प्राण दिए, उस देश के लिए हम सब कुछ कर सकते है| हमें उस आज़ादी को बर्बाद नहीं करना है हमें देश को भ्रष्टाचार, गरीबी, नासखोरी, अज्ञानता इन सब से भारत को आज़ादी दिलाने की कोशिश करनी चाहिए. देश को सायद आज एक एक नई सोच की ज़रूरत है वो हम कर सकते है अपनी सोच बदलो आज़ादी दिलाओ आज अपने देश को इन सब कडवी बातो से काले बाजारों से और अच्छी सोच से हमारा भारत आजाद होगा दोस्तों जो आप कर सकते हो |

हमारे देश के युवानो हमें इस देश का भविष्य कहा जाता है, तो हम ही क्यों न इस भारत को इन सब चीजों से आजाद करवाए. सिर्फ हमें भ्रष्टाचार होने से रोकना है, गरीबो की मदद करनी है नासा करने से दूर रहना है और लोगो को भी यह समजाना है, हमें हर अज्ञानी को सिखाना है यह सब बात अगर आप कर सकते हो हो आप भी एक दिन हक से कह पाओगे की आज़ादी दिलाने में मेरा भी नाम मैंने जोड़ दिया है|

     दोस्तों यह पोस्ट अगर आपने ध्यान से न पढ़ी हो तो फिर एक बार पढ़ लीजियेगा पर हमारे देश और उन सहिदो की क़ुरबानी को व्यर्थ ना जाने देना बस 15-अगस्त के दिन तिरंगे को सलाम करते हुए एक वचन लीजियेगा की आजसे और अभी से मैं लोगो के दिलो मे अच्छी सोच लाऊंगा, किसी भूखे की भूख को मिटाऊंगा, और नशा करते लोगो को नशे की चीजों से दूर रखूँगा.. और अपने देश का नाम कभी नीचा नहीं होने दूंगा जैसे तिरंगा ऊपर लहराता है…

दोस्तों यह पोस्ट केवल लोगों को हमारे देश के प्रति एक अच्छी सोच बानाने के लिए लिखी गई हैं कृप्या helpहिंदी का साथ दीजिये और पोस्ट अच्छी लगी तो कृप्या कुछ लोगों तक जरुर शेयर करें अगर एक इन्सान भी अगर सोच बदलता हैं तो मान लीजिये एक दिन ये इंडिया बदलेगा…मेरा भारत बदल रहा हैं…… मेरे भारतवासी बदल रहें हैं….

धन्यवाद..!!!

जय हिन्द !!!!!!!!!!!!!! जय भारत !!!!!!!!!!!!!!!

1 COMMENT

  1. […] August 13, 2016 Niraj Patel dosto वैसे तो लिखने के लिए बोहुत है 15th august के बारें में क्यों की उन शहीदों को हम कैसे भूल सकतें है जिन्होंने आज़ादी के लिए अपनी जान गवाई थी. उनको कैसे भूल सकतें है जिन्होंने अपनी जान पर खेल कर हमारे देश को आज़ाद करवाया था…. आज उन्ही को समर्पित यह अर्त्किअल हैं.. read also :-  Independence Day special – Never forget their sacrifice… […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here