चाणक्य नीति |नवां अध्याय | Chanakya Neeti [ हिंदी में ]

14
45

Chanakya Neeti :Ninth Chapter [In Hindi]

चाणक्य नीति 1 : तात, यदि तुम जन्म मरण के चक्र से मुक्त होना चाहते हो तो जिन विषयो के पीछे तुम इन्द्रियों की संतुष्टि के लिए भागते फिरते हो उन्हें ऐसे त्याग दो जैसे तुम विष को त्याग देते हो. इन सब को छोड़कर हे तात तितिक्षा, ईमानदारी का आचरण, दया, शुचिता और सत्य इसका अमृत पियो.

Chanakya चाणक्य

चाणक्य नीति 2 : वो कमीने लोग जो दूसरो की गुप्त खामियों को उजागर करते हुए फिरते है, उसी तरह नष्ट हो जाते है जिस तरह कोई साप चीटियों के टीलों में जा कर मर जाता है.

Chanakya चाणक्य

चाणक्य नीति 3 : शायद किसीने ब्रह्माजी, जो इस सृष्टि के निर्माता है, को यह सलाह नहीं दी की वह …

सुवर्ण को सुगंध प्रदान करे.
गन्ने के झाड को फल प्रदान करे.
चन्दन के वृक्ष को फूल प्रदान करे.
विद्वान् को धन प्रदान करे.
राजा को लम्बी आयु प्रदान करे.
Chanakya चाणक्य

चाणक्य नीति 4 : अमृत सबसे बढ़िया औषधि है.

इन्द्रिय सुख में अच्छा भोजन सर्वश्रेष्ठ सुख है.
नेत्र सभी इन्द्रियों में श्रेष्ठ है.
मस्तक शरीर के सभी भागो मे श्रेष्ठ है.
Chanakya चाणक्य

चाणक्य नीति 5 : कोई संदेशवाहक आकाश में जा नहीं सकता और आकाश से कोई खबर आ नहीं सकती. वहा रहने वाले लोगो की आवाज सुनाई नहीं देती. और उनके साथ कोई संपर्क नहीं हो सकता. इसीलिए वह ब्राह्मण जो सूर्य और चन्द्र ग्रहण की भविष्य वाणी करता है, उसे विद्वान मानना चाहिए.

Chanakya चाणक्य

चाणक्य नीति 6 : इन सातो को जगा दे यदि ये सो जाए…

  1. विद्यार्थी
  2. सेवक
  3. पथिक
  4. भूखा आदमी
  5. डरा हुआ आदमी
  6. खजाने का रक्षक
  7. खजांची
Chanakya चाणक्य

चाणक्य नीति 7 : इन सातो को नींद से नहीं जगाना चाहिए…

  1. साप
  2. राजा
  3. बाघ
  4. डंख करने वाला कीड़ा
  5. छोटा बच्चा
  6. दुसरो का कुत्ता
  7. मुर्ख
Chanakya चाणक्य

चाणक्य नीति 8 : जिन्होंने वेदों का अध्ययन पैसा कमाने के लिए किया और जो नीच काम करने वाले लोगो का दिया हुआ अन्न खाते है उनके पास कौनसी शक्ति हो सकती है. वो ऐसे भुजंगो के समान है जो दंश नहीं कर सकते.

Chanakya चाणक्य

चाणक्य नीति 9 : जिसके डाटने से सामने वाले के मन में डर नहीं पैदा होता और प्रसन्न होने के बाद जो सामने वाले को कुछ देता नहीं है. वो ना किसी की रक्षा कर सकता है ना किसी को नियंत्रित कर सकता है. ऐसा आदमी भला क्या कर सकता है..

Chanakya चाणक्य

चाणक्य नीति 10 : यदि नाग अपना फना खड़ा करे तो भले ही वह जहरीला ना हो तो भी उसका यह करना सामने वाले के मन में डर पैदा करने को पर्याप्त है. यहाँ यह बात कोई माइना नहीं रखती की वह जहरीला है की नहीं.

Chanakya चाणक्य

चाणक्य नीति 11 : सुबह उठकर दिन भर जो दाव आप लगाने वाले है उसके बारे में सोचे. दोपहर को अपनी माँ को याद करे. रात को चोरो को ना भूले..

Chanakya चाणक्य

चाणक्य नीति 12 : आपको इन्द्र के समान वैभव प्राप्त होगा यदि आप..

अपने भगवान् के गले की माला अपने हाथो से बनाये.

अपने भगवान् के लिए चन्दन अपने हाथो से घिसे.

अपने हाथो से पवित्र ग्रंथो को लिखे.
Chanakya चाणक्य

चाणक्य नीति 13 : गरीबी पर धैर्य से मात करे. पुराने वस्त्रो को स्वच्छ रखे. बासी अन्न को गरम करे. अपनी कुरूपता पर अपने अच्छे व्यवहार से मात करे.

Chanakya चाणक्य

14 COMMENTS

  1. Hello Niraj ji
    पिछले कुछ महीनों से मैं इन्टरनेट पर ब्लॉग्गिंग के बारे में जानकारी पढ़ रहा हूँ ।
    मैंने कई ब्लॉग को पढ़ा है ।

    हिंदी ब्लॉग पढ़ा है । जैसे achhikhar.com , hindisoch.com, Helpहिंदी.com, shout me hindi etc.

    इंग्लिश ब्लॉग भी पढ़ा है । जैसे, huffington post, mashable.com, labnol.org , shoutmeloud.com etc.

    हिंदी+इंग्लिश ब्लॉग भी पढ़ा है । जैसे , hindi me help, support me India, iJankari.com , weblogstars.com etc.

    तो नीरज जी
    मैंने इन सब ब्लॉग को पढ़ा है ।
    और मैंने भी फैसला किया है की मैं भी एक वेबसाइट बना कर अपनी knowledge share करूँगा और लोगों को फायदा पहुँचाऊँगा । और इसी से पैसे भी earn कर लूँगा ।

    तो वेबसाइट बनाने से पहले मुझे एक समस्या आ रही है ।
    वो समस्या है :- मैं वेबसाइट बनाकर किस भाषा में लिखूं ।

    हिंदी में लिखूं

    या फिर हिंदी+English में लिखूं ।

    मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा है ।

    इसलिए आप कुछ टिप्स दीजिये कि मैं किस भाषा में लिखूं ।

    और आप मुझे इसके बारे में अच्छे से detail में बताएं ।
    आपकी अति कृपा होगी ।

    आप कुछ बताना शुरू करें उससे पहले मैं चाहूँगा कि आप ये दोनों आर्टिकल जरुर पढ़ लें ।
    और इसके base पर अच्छे से guidance करें ।

    धन्यवाद ।

    नीरज जी बताइयेगा जरूर ।

    http://www.achhikhabar.com/2016/05/17/how-to-make-money-from-hindi-blogs-se-paise-kamaye/

    http://supportmeindia.com/hindi-vs-hinglish-kis-bhasha-me-blogging-kare/

  2. बिल्कुल,प्रिंस जी हम जल्द ही इस विषय पर भी एक पोस्ट प्रकाशित करेंगे जो आपको आपके blogging career मे मददगार साबित होगा ।
    इतनी बेहतरीन comment करने के लिए धन्यवाद !!!!

  3. शेखर जी ।
    आपका बहुत-बहुत धन्यवाद ।
    मैंने अपने ऊपर वाले कमेंट में 2 लिंक दिया है ।
    1. achhikhar की लिंक
    2. Support me India की लिंक है ।

    मैंने दोनों लिंक open करके पढ़ा है ।
    मुझे काफी हद तक तो समझ आ गया है ।
    पर अभी भी एक confusion बनी हुई है ।
    कि किस भाषा में लिखूं ।

    Helpहिंदी एक multi topic वेबसाइट है जो कि मुझे बेहद पसंद है ।
    क्योंकि इस वेबसाइट पर पब्लिश किये गए हर एक article बहुत ही बढ़िया और quality पूर्ण होता है ।
    इस वेबसाइट के आर्टिकल या कहानियां पढने में बहुत अच्छा लगता है ।
    क्योंकि इस वेबसाइट पर लिखे गए हर एक article की लिखने की quality बहुत ही बढ़िया है ।
    जिस भी टॉपिक पर लिखा जाता है उसकी एक-एक जानकारी अच्छे से दी होती है ।
    इसीलिए मैं चाहता हूँ कि आप लोग इस टॉपिक पर एक बहुत ही बेहतरीन article लिखें जिससे की कोई भी new bloggers ये आसानी से फैसला कर सके कि उसको किस भाषा में आर्टिकल लिखना चाहिए ।
    हिंदी में या हिंदी+English में ।

    article का title आप ये डाल सकते हैं ।

    1. New bloggers किस भाषा में ब्लॉग लिखना शुरू करें ।
    2. कौन सी भाषा में new blog की शुरुआत करें:- हिंदी या हिंदी+English .
    3. किसी भी bloggers को कौन सी भाषा में ब्लॉग लिखना चाहिए , जानें हिंदी में ।

    ये कुछ पोस्ट title है ।
    आप अपने हिसाब से भी इससे भी अच्छा title likh सकते हैं ।

    धन्यवाद ।

    मुझे जल्द से जल्द इस आर्टिकल का इन्तजार रहेगा ।

    धन्यवाद Helpहिंदी का जो कि बहुत ही बेहतरीन वेबसाइट के रूप में आगे बढ़ रही है ।

    तो अंत में यही कहूँगा कि लिखते रहिये, सीखते रहिये, सिखाते रहिये और आगे बढ़ते रहिये ।

    धन्यवाद ।

    • प्रिंस जी हम आपकी प्रोबलम समज सकतें हैं…. ब्लॉग्गिंग एक बेह्तरित तरीका है वैसे देखा जाएँ तो क्यों की…
      ब्लॉग्गिंग से आप किसी की हेल्प कर सकते हैं….
      पैसे कमा सकते हैं…
      और एक फेमस इन्सान बन सकतें हैं…
      साथ में आप अपने आप को develop कर सकतें हैं.. इसका एक कारण हैं.. आप जब भी न्यू जानकरी लिखेंगे तो आप उसके बारें में पढेंगे या फिर कही पर विडियो देखेंगे.. य फिर बोक पढेंगे…
      और यही से स्टार्ट होगी आपकी न्यू लाइफ क्यों की आप दुसरो के लिए knowledge इकठा करेंगे… और अपने आप को और बेहतर बनाने में लग जायेंगे…
      HELPहिन्दी का एक ही सपना हैं की इंडिया में हिंन्दी को बढ़ावा दिया जाएँ….
      एंड आपको एक ही बात कहेंगे की आप हिन्दी मी ही लिखे इसके भी कुछ कारण हैं..
      जैसे की आप मात्रुभाषा में लिखेंगे..
      आप हिन्दी में लिखेंगे तो हिंगलिश के मुकाबले हिंदी समजना आसन हैं….
      और गूगल भी अब हिन्दी को बढ़ावा दे रहा हैं तो हमारा कहना यही हैं की हिन्दी या इंग्लिस इन दोनों भाषा में लिखने से भविष्य अच्छा रहेगा….
      साथ में Just think about it…
      हिन्दी एक भाषा हैं इंग्लिश एक भाषा के रूप में जाना जाता हैं
      but हिंगलिश किसी भी भाषा में नही माना जाता…. इसमें कोई ठप्पा नहीं लगा हैं की ये एक भासा है…
      वैसे आप समाज गएँ होंगे में क्या कहना चाहता हु …
      helpहिन्दी से जुड़ें रहिये सिखतें रहियें सिखाते रहिये और आगे बढतें रहियें…
      धन्यवाद..

  4. अपना बहुमूल्य comment देने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद ।
    अब फैसला कर लिया है कि हिंदी में ही लिखा जाएगा ।
    और हिंदी को बढ़ावा दिया जाएगा ।
    और हिंदी को World की सबसे पॉपुलर भाषा बनायेंगे ।
    अंग्रेज भी England me हिंदी बड़े चाव से पढ़ते हैं और सीखते हैं ।

    एक हिंदी में उद्धरण (qoutes) है :- आगे आने वाले कुछ सालों में हिंदी और भारत की प्राचीनतम भाषा संस्कृत का ही बोलबाला होगा ।

    • प्रिंस जी ,मुझे लगता है आप अपने ब्लॉगिंग कैरियर को लेकर सचेत है । हमारी राय से भी हिंदी ही भविष्य के लिए सबसे लोकप्रिय भाषा है । जैसा कि हमने अपनी पुरानी कमेंट में कहा था कि हम भाषा चयन के लिए जल्द ही एक पोस्ट लिखने वाले हैं , यह पोस्ट आपको बताएगी कि हम हिंदी को ही ज्यादा महत्व क्यों दे रहे हैं भविष्य के नजरिये से ।
      ऐसे ही जुड़े रहिये हेल्प हिंदी के साथ- सीखते रहिये सीखाते रहिये

  5. शेखर जी
    आपका बहुत-बहुत धन्यवाद ।
    वैसे तो Helpहिंदी पर कमेंट करने के बाद मैंने फैसला कर लिया है कि हिंदी में ही आर्टिकल लिखूंगा ।
    पर मुझे Helpहिंदी पर मुझे आपके उस आर्टिकल का बेसब्री से इन्तजार रहेगा ।
    धन्यवाद ।

    सीखते रहिये
    सिखाते रहिये
    Helpहिंदी पर क्वालिटी पूर्ण आर्टिकल लिखते रहिये
    और आगे बढ़ते रहिये ।
    धन्यवाद ।

    • बिल्कुल सही कहा कमल जी, चाणक्य नीति से अच्छी कोई भी नीति इस संसार मे नही है ।
      हमसे जुड़ने के लिए शुक्रिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here