सफलता के 7 रहस्य 7 Secret Steps Success Life

दोस्तों सक्सेस होने के लिए हम बोहुत मेहनत करतें हैं, काम में दिन रात लगें रहतें हैं, फिर भी हम सक्सेसफुल नहीं होतें, क्या आपने कभी सोचा हैं की इसका क्या कारण होगा, कोनसी वजह होगी ? क्या गलती हुई होगी ? ऐसे बोहुत से सवाल हैं but आज में आपके साथ कुछ स्टेप्स के बारे में बात करने वाला हूँ, यह टिप्स बोहुत से success लोगो की बातों और उनके विचारो से हमें जानने को मिली है… क्या सक्सेस लोगों के पास कोई सीक्रेट्स होतें हैं ? क्या सक्सेस होने के लियें वो लाखों रुपे खर्च करते हैं ? अगर यह सवाल आपके मन में हैं तो ऐसा कुछ नहीं है की सक्सेस फुल होने वालें लोगों के पास कोई सीक्रेट्स है बीएस वो regular वर्क करते है और अपने काम से प्यार करते हैं और कुछ स्टेप्स हैं जो Follow करतें हैं वो स्टेप्स के बारें में यहाँ आप जानेंगे…

7 Secret Steps Success Life

1. [लक्ष्य] – [ध्येय]

लक्ष्य को Clear रखियें :

आप पहले अपना लक्ष्य चुन लिजियें और उसी को दिमाग में फिट कर लिजियें की आपको उसी में Successful होना हैं, और सब क्लियर कर लिजियें की आपको उसी फील्ड में आगे जाना हैं.. अगर आप स्टूडेंट हैं तो आपका लक्ष्य होना चाहियें की आपको आगेकिस फील्ड में जाना हैं क्या बनना हैं सिर्फ आप उसी पर अपना सारा फोकस रखियें और अपना लक्ष्य क्लिअर कर लिजियें, अगर आप बिजनेस करना चाहते है, तो वैसे बिजनेस बोहुत सारें है आप सभी में सोचेंगे तो आप कुछ नहीं कर पाएंगे, उसमेसे एक चुन लिजियें और उसी में आप Successful बनेंगे ये क्लिअर कर लिजियें, जैसे की अगर आप एक ब्लॉगर है तो पहले अपना टॉपिक चुन लीजिये उसके बाद आप क्या लिखेंगे और कैसे Success होने ये क्लिअर कर लीजिये फिर आगे बढिए, Simple शब्दों में कहा जाएँ तो आपको पहले अपना लक्ष्य चुनना होगा उसी के बाद आगे बढ़ना हैं..

2. Planning

प्लानिंग क्या हैं : प्लानिंग यानि आपको अपने लक्ष्य को पूरा करने के लिए स्टेप्स by स्टेप काम करना
हैं और वो काम कैसे होगा उसका प्लानिंग बनाना हैं, “अपने लक्ष्य को पूरा करने के लियें जो स्टेप्स हम बनाते हैं उसे प्लानिंग कहते हैं”..

प्लानिंग कैसे करें : आप जिस लक्ष्य को पाना चाहते है उसे सामने रखियें यानि की आप जो पाना कहते हैं या जिसमे आप सक्सेस होना चाहते हैं उससे आपको सामने लाना है आप को लक्ष्य को ध्यान में रख कर स्टेप्स बनाने हैं..

प्लानिंग कैसे बनायें : एक एक्साम्प्ल से आपको समजता हूँ मान लिजियें आपको शिमला घुमने जाना हैं तो आप पहले क्या करेंगे… पहले आप कितना दूर है उसका पता लगायेंगे, फिर कैसे जाना हैं वो तय करेंगे, आप कैसे जांयेंगे वो तय करेंगे, फिर कब जाना है वो तय करेंगे, कब तक जाना है कितने टाइम निकलना है ये सब स्टेप्स आप प्लानिंग करेंगे that’s point आपको बस इसी तरह अपने लक्ष्य को सामने रखना है और सब प्लानिंग करना है की आप कैसे अपने लक्ष्य को प्राप्त करेंगे उसके लिए आपको क्या क्या करना होगा, कितना टाइम देना होगा, कितनी मेहनत करनी होगी, किस तरह से मेहनत करनी होंगी, और कब तक आप उस लक्ष्य को प्राप्त करने का प्रयाश करेंगे….

प्लानिंग कैसे याद रखें : आपको एक page लेना हैं उसमे अपने लक्ष्य को लिखना हैं, उसके बाद आपको अपना एक प्लानिंग तेयार करना हैं की आप कैसे काम करेंगे क्या क्या करना होगा इस काम में कितना समय देना है सब लिख लिजियें फिर उसे ऐसी जगह लगा दीजिये जिस जगह पर आपकी नज़र हमेशां रहें और आपके दिमाग में वो गुमता रहें की ये आपका लक्ष्य है और इसे आपको पाना हैं..

3. मेहनत

एकबार अपना लक्ष्य को चुन लेने के बाद आपने प्लानिंग कर लियां उसके बाद आपको उसको पूरा करने के लिए मेहनत करनी होगी यानि की तुरत उस काम को पूरा करने में लग जाना हैं वैसे successful लोगो में सबसे अलग बात यही है की वो जो कुछ चुनते है या उनका जो लक्ष्य है उसको पूरा करने के लिए तुरंत मेहनत करने लग जातें है और उससे जब तक पूरा न करले तब तक उसमे लगें रहते है इसी लियें वो सक्सेसफुल होतें हैं आपको Mental और Physical तरीके से Strong होना बेहत जरुरी हैं, पक्के जोश और पक्के इरादे से आगे बढ़ना होगा फिर देखिये सफलता आपके कदम चूमेगी..

4.Smart Work

अभी के समय के मुताबिक अगर देखा जाएँ तो Hard Work जरुरी नहीं हैं स्मार्ट वर्क जरुरी हैं, वैसे लोगों को यह भ्रम है की सिर्फ handwork से आगे जा सकते है but ये बिलकुल गलत हैं, handwork सिर्फ और सिर्फ आपको एक मजदूरी का काम करने में काम आएगा, so आपको smart work करना हैं

स्मार्ट वर्क क्या हैं ? : स्मार्ट वर्क यानि आपको सही दिशा में काम करना हैं सही लक्ष्य में काम करना है और सही समय पर करना हैं, जैसे की मन लिजियें आप अगर handwork कर रहें है दिन रात लगें रहेंगे एक ही काम को करने में but पहले आप उस काम को करने के लियें प्लानिंग बना लेंगे तो वो काम एकदम आसन हो जायेंगा एंड सही शब्दों में कहाँ जाएँ तो प्लानिंग करना ही स्मार्ट वर्क कहते हैं..

5.टेक्नोलॉजी

आगे बढ़ने के लिए न्यू टेक्नोलॉजी और नयें विचार को अपनाएं, अभी का टाइम न्यू टेक्नोलॉजी का हैं कुच नया सोचिये सबसे आगे सोचिएं और कुछ नया करने के लिए आप टेक्नोलॉजी का उपयोग किजीयें और यही टेक्नोलॉजी स्मार्ट बनने के लिए आपको help करेगीं, for example– स्मार्ट फोन, इंटरनेट, कंप्यूटर ऑनलाइन वर्क ऐसे बोहुत से example हैं जो आपको स्मार्ट बनायेंगे जैसे आप अगर कोई बिजनेस कर रहें है छोटासा तो आप उसे ऑनलाइन भी कर सकते हैं आप स्टूडेंट है तो ऑनलाइन पढ़ भी सकते हैं, अगर आप कही जाने वालें है या कोई काम करना चाहते है तो ऑनलाइन उसके बारें में देख सकेंगे  और यही सब है जो आपको स्मार्ट बनायेंगी और आप
अपनी फील्ड में आगे जा पाएंगे…

6. follow Rules [नियमों का पालन करें]

नियम का पालन करना यानि की आपने जो फिक्स कियां है की इतने टाइम वर्क करना हैं इतने टाइम आपको रेस्ट लेना हैं’ इतने टाइम आपको बहार जाना है ये सब आप एक रूल्स की तरह फॉलो करें और टाइम तो टाइम अपने सभी काम को करें… जैसे की अगर आप किसी कंपनी में वर्क करते है तो वहा सब रूल्स के हिसाब से चलता हैं, आप जब मंदिर में जातें है तब वहा पर भी रूल्स के हिसाब से होता है, आप श्कूल में जातें होंगे तो वहा भी रूल्स होते हैं कॉलेज में भी रूल्स होते हैं उसी तरह आप अपनी लाइफ में अपने लक्ष्य को पूरा करने के लियें रूल्स बनायें जिससे क्या होगा, स्मार्ट बनेंगे आप आपने वाली लाइफ के लिए हमेशा रेडी रहेंगे…

7.सिखना और टिके रहना

यह आखरी स्पेट बोहुत इम्पोर्टेंट हैं क्यों की 75% लोग 6 स्टेप्स करने के बाद जब 7 स्टेप्स पर आतें है तो हार मान जातें हैं But हार नहीँ माननी हैं आप अगर असफलता जैसे शब्दों का प्रयोग अपने जीवन में करते है तो क्रिपियाँ पहले ऐसे negative word को निकाल दीजियें क्यों की असफलता जैसा कोई शब्द इस दुनिया में हे ही नहीं, बोहुत से लोग है जो काम ना होने पर या लक्ष्य को प्राप्त ना करने पर किसी और को दोष देतें है और असफलता मिली है इस गम में आधी लाइफ निकल देतें हैं but उसके सामने जो सक्सेस होने वालें इंसान ऐसे होतें हैं जो अपनी हार को भी जित्त मानते हैं क्यों की उन्होंने कुच नयाँ सिखा है ये सोचते हैं और फिर उसको सुधरने में लग जातें है जिससे फिर से उनका फोकस अपने लक्ष्य पर हो जाता हैं और वो टिके रहते हैं, क्योंकि “चप्पू चलायें बिना नैया पार नहीं होतीं क्योकि कोशिश करने वालो की हार नहीं होती” सो आप सीखते रहियें और अपने लक्ष्य को पानें के लियें टिके रहियें…..

यह आर्टिकल को अपने दोस्तों से जरुर शेर करें, और Helpहिन्दी से जुड़ें रहिये सिखतें रहिये और आगे बढतें रहिये….

धन्यवाद !

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *