काकरोच और वेटर – Motivatioanal story in hindi

दोस्तों आज मै आपको Proactive और Reactive लोगो के बीच अन्तर बताने के लिए एक कहानी बताने जा रहा हूँ उस कहानी का नाम है – काकरोच और वेटर – an Inspiring & Motivatioanal story in hindi

यह कहानी नही है , यह एक real story है जिसे सुंदर पिचई ने सामने से देखी ,और फिर google के Ceo Sunder Pichai ने इसे share की थी जो आज मै आपको बताने वाला हूँ |

एक रेस्टोरेंट में एक औरत के ऊपर कही से एक एक काकरोच आकर बैठ जाता है , वो डर जाती है और जोर जोर से चीखने चिल्लाने लगती है , और उछल – उछल कर उसे अपने हाथो से हटाने की कोशिश करने लगती है , इतने में औरत के हाथ लगने से काकरोच आकर दूसरी औरत पर बैठ जाता है , और वह औरत भी पहली वाली औरत की तरह चीखने लगती है , यह देखकर पास में खड़ा एक वेटर उनकी मदद के लिए उनके पास जाता है | इतने में काकरोच अब वेटर के ऊपर बैठ जाता है , लेकिन वेटर बिना चिल्लाये और बिना Panic हुए सीधा खड़ा रहता है और काकरोच के movement को अच्छे से observe करता है , फिर उसे अपने हाथों से पकड कर बाहर फेंक देता है |

यहाँ waiter एक Proactive इंसान था जिसने उन औरतों की तरह Situation पर बिना सोचे समझे React करने की वजह , सोचकर Solution निकाला और फिर सोच के according ,action लिया |

Reactive – यहाँ Reactive वो औरतों है |
proactive – और Proactive वेटर है |

Reactive लोग हर चीज मे दूसरों को Blame करते हैं | वो कुछ इस तरह से बाते करते है –

उनका देश तरक्की नहीं कर रहा क्योंकि Government अच्छी नहीं है |

वो तरक्की नहीं कर रहे क्योंकि उनका Boss अच्छा नहीं है |

वो खुश नहीं है , क्योंकि लोग अच्छे नहीं है |

और कोई बहाना न मिले तो वो किस्मत को ही Blame करने लगते हैं |

उन्हें लगता है , चीजो को Control करना उनके हाथ में नहीं है , सब हालत और किस्मत का खेल है | उन्हें लगता है सारी problems बाहर है , जबकि असलियत यह होती है कि Problems उनके अंदर हैं |

वो अधिकतर ऐसे Sentance use करते है , जैसे –

मै कुछ नहीं कर सकता |

क्या करूँ मै बचपन से ही ऐसा हूँ |

वो मुझे बहुत गुस्सा दिलाता है |

जबकि Proactive लोग दूसरों की बजाय अपने अपर ज्यादा भरोसा रखते हैं |वे अपने action की Responsibality खुद पर लेते हैं |

हालात और किस्मत को दोष देने के बजाय वो अपने Problems का Solution ढूंढते है |

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *